December 7, 2022

अरविंद केजरीवाल 23 अगस्त को दिल्ली के व्यापारियों के साथ करेंगे ‘डिजिटल संवाद’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जल्द ही में दिल्ली के सभी व्यापारियों के साथ व्यक्तिगत रूप से बातचीत करेंगे। इस चर्चा का उद्देश्य कोविड-19 महामारी के दौर में व्यापारियों के सामने आने वाली चुनौतियों को समझना है और दिल्ली की अर्थव्यवस्था को और मजबूत करने के उपायों पर योजना बनाना है।

यह बातचीत डिजिटल संवाद के माध्यम से रविवार (23 अगस्त), को शाम 4 बजे आयोजित की जाएगी। इसके लिए सभी विवरणों के साथ एक पंजीकरण लिंक माननीय मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा साझा किया गया था। इस संवाद में व्यापारियों को सीएम अरविंद केजरीवाल को अपने सुझाव देने के लिए आमंत्रित किया गया है।

इसके लिए इच्छुक व्यापारियों को http://bit.ly/DigitalSamvaadwithCM पर ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा। डिजिटल संवाद में भाग लेने के लिए व्यापारियों को 22 अगस्त (शनिवार तक) को शाम 4 बजे तक अपना पंजीकरण करने और रविवार को संवाद के दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल केजरीवाल को अपने सुझावों को संक्षेप में बताने के लिए कहा गया है।

यह बातचीत सीएम अरविंद केजरीवाल द्वारा कोविड-19 महामारी के बीच राज्य की अर्थव्यवस्था को गति प्रदान करने और कारोबारी माहौल को बेहतर बनाने के लिए की जा रही पहलों की एक श्रृंखला है। हाल ही में, सीएम अरविंद केजरीवाल ने विभिन्न उद्योग संघों के साथ बातचीत की थी, ताकि उनके सामने आने वाली चुनौतियों पर चर्चा की जा सके और दिल्ली की कोरोना अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के उपायों पर चर्चा की जा सके। बैठक का उद्देश्य उद्योगपतियों के सामने आ रही चुनौतियों पर चर्चा करना था, जिनके कारखाने और व्यवसाय कोरोना लॉकडाउन के कारण बंद हो गए थे।

दिल्ली की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कई अन्य निर्णय पहले ही लिए जा चुके हैं। जैसे- दिल्ली में डीजल की कीमतों को काफी कम करना, कोविड अस्पतालों से होटलों को जोड़ना, ताकि वे सामान्य रूप से काम करना शुरू कर सकें, स्ट्रीट हॉकर्स और साप्ताहिक बाजारों को अपना काम शुरू करने की अनुमति देना, दिल्ली इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पाॅलिसी को मंजूरी दी गई और नौकरी चाहने वालों और नौकरी देने वालों के बीच समन्वय स्थापित करने के लिए दिल्ली रोजगार बाजार पोर्टल की शुरूआत की गई। 27 जुलाई को मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने ऑनलाइन जॉब पोर्टल “दिल्ली रोजगार बाजार” लॉन्च किया था, जिसमें अब तक 8.5 लाख से अधिक जाॅब पोस्ट की जा चुकी हैं और पोर्टल पर लगभग 10 लाख नौकरी चाहने वालों ने पंजीकरण किया है।

दिल्ली में व्यापारियों का समुदाय 1.5 मिलियन से अधिक है और यह राज्य के आर्थिक ढांचे की रीढ़ है। लॉकडाउन के प्रभाव और वायरस के फैलने के डर की वजह से बाजारों और दुकानों में बिक्री और सेवा कार्य प्रभावित हुआ है। लॉकडाउन के दौरान कई दुकानदारों ने अपने कर्मचारियों की संख्या कम कर दी और सीमित बिक्री और काफी मानसिक दबाव का सामना किया। यह डिजिटल संवाद यह सुनिश्चित करती है कि सभी हितधारकों की आवाज को सुना जाए, ताकि दिल्ली माॅडल के तहत दिल्ली सरकार कोई नीतिगत पहल कर सके।

दिल्ली के व्यापारिक संगठनों ने मुख्यमंत्री के इस पहल का स्वागत किया है और दिल्ली में सीएम अरविंद केजरीवाल द्वारा कोविड की रोकथाम के प्रयासों की सराहना की है, जिसमें दिल्ली की अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए अब तक की गई कई पहल शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post सीएम अरविंद केजरीवाल ने शहीद दमकलकर्मी अमित कुमार के परिजनों को दिए एक करोड़ रुपए का चेक
Next post सामाजिक और मनोभावात्मक स्किल 2023 पर OECD अध्ययन में शामिल होने की तैयारी में दिल्ली