November 26, 2022

आम आदमी पार्टी के नेता दिल्ली नगर निगम व पार्षदों पर लगाए गए आरोपों के लिए मांगें माफी – महापौर, जय प्रकाश

उत्तरी दिल्ली के महापौर जय प्रकाश, स्थायी समिति के अध्यक्ष, छैल बिहारी गोस्वामी व नेता सदन श्री योगेश कुमार वर्मा ने आज प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता राघव चड्ढा और आतिशी मार्लेना ने दिल्ली नगर निगम व निगम पार्षदों पर जो आरोपों लगाए है वो उन के लिए माफी मांगें।

उत्तरी दिल्ली के महापौर जय प्रकाश ने कहा कि एक तरफ निगम दिल्ली में जलभराव की स्थिती के संबंध में बात कर रही है वहीं दूसरी तरफ आदमी पार्टी के नेता मुद्दों को भटकाने का कार्य कर रहे है। उन्होंने कहा कि आप पार्टी के नेताओं ने जो भी आरोप लगाएं है वो उन्हें तथ्यों के साथ पेश करें अन्यथा दिल्ली नगर निगम पर लगाएं गए आरोपो के लिए माफी मांगे।

महापौर जय प्रकाश ने कहा कि आम आदमी पार्टी का हमेशा से तरीका रहा है की पहले आरोप लगाओ और फिर भाग जाओ। उन्होंने बिना तथ्यो के आधार पर निगम पर आरोप लगाये हैं और इसका उदाहरण कल भी देखने को मिला जब दिल्ली उच्च न्यायालय ने दिल्ली सरकार को निर्देश दिया कि आप तुरंत 8 करोड़ रू उत्तरी दिल्ली नगर निगम को जारी करे ताकि निगम के डॉक्टरों को वेतन दिया जा सके। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार सिर्फ यही कहती है कि हमने निगम को सारा पैसा दे दिया जबकि वर्ष 2018-19 में स्वास्थ्य, स्वच्छता और शिक्षा इन तीन विभागों में ही केवल वेतन पर 2421 करोड रू खर्च आया और केवल 1606 करोड़ रू. दिल्ली सरकार ने हमें दिया था। उसी प्रकार से इन्हीं तीन विभागों के लिए वर्ष 2019-20 में दिल्ली सरकार ने हमें 1561 करोड़ रू दिया है और हमारा खर्च 1790 करोड़ रू हुआ है। इस वित्तीय वर्ष 2020-21 के प्रथम व द्वितीय तिमाही का लगभग 1180 करोड़ रू दिल्ली सरकार ने अभी तक निगम को नहीं दिया है।

नेता सदन योगेश वर्मा ने कहा कि दिल्ली सरकार पूरी तरह से भ्रष्टाचार में लिप्त है। बिजली घोटाले में फिक्स चार्ज के रूप में प्राईवेट कम्पनियों के साथ दिल्ली की जनता का शोषण किया जा रहा है। उसी प्रकार से पीडब्ल्यूडी और दिल्ली जल बोर्ड ने करोड़ो रू का फंड खर्च करके अपने सारे नाले साफ करने का दावा किया था लेकिन जब पिछले दिनों बरसात के कारण पूरी दिल्ली जल मग्न हो गयी थी, तब मुख्यमंत्री ने कहा था कि वे कोरोना के कारण नालों की सफाई का कोई काम नहीं कर पाये है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार ने जो सैनीटाईजेशन के लिए मशीनें जापान से मंगवाई थी वो कहा गई।

योगेश वर्मा ने कहा कि यदी आम आदमी पार्टी के नेता श्री राघव चड्ढा और सुश्री आतिशी मार्लेना ने माफी नहीं मांगी तो इन दोनो नेताओं के खिलाफ न्यायालय में एक करोड़ का मानहानि केस किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post उपमुख्यमंत्री ने स्कूलों में सेमी -ऑनलाइन शिक्षा की समीक्षा की, शिक्षकों अभिभावकों से लिया फीडबैक
Next post केजरीवाल सरकार का ऐतिहासिक फैसला, वैट में अब तक की सबसे बड़ी कटौती, दिल्ली में 8.36 रुपये प्रति लीटर सस्ता होगा डीजल