December 2, 2022

कश्मीर घाटी में फिर बारिश, बढ़ी चिंताएं

बाढ़ से जूझ रहे कश्मीर में पिछले कुछ दिनों में मौसम साफ रहने के बाद आज फिर बारिश लौट आई है और इससे बचाव कार्य में बाधा पड़ने की आशंका है। घाटी में श्रीनगर और अन्य स्थानों पर गरज के साथ बारिश हुई। पिछले पांच दिनों से कश्मीर में मौसम साफ था। आज सुबह साढ़े आठ बजे से घाटी में बारिश हो रही है और यह लगातार बढ़ती जा रही है। श्रीनगर के उपजिलाधिकारी सय्यद आबिद रशीद शाह ने बताया कि बिगड़ते मौसम से परेशानी होगी क्योंकि अब भी ज्यादातर लोग सड़कों पर बिना किसी आश्रय के रह रहे हैं। कुछ जगहों पर लोगों को खेमों में रखा गया है लेकिन ये भी वाटरप्रूफ नहीं हैं। शाह ने बताया कि बारिश होने के बावजूद राहत कार्यक्रम लगातार जारी है। घाटी में आई भीषण बाढ़ से लगभग डेढ़ लाख लोग प्रभावित हुए हैं। बाढ़ से कश्मीर में बड़े पैमाने पर लोगों की मौत हुई है और भारी नुकसान भी हुआ है। इससे पहले बीमारियों के प्रकोप को लेकर स्वास्थ्य संबंधी चिंताएं बढ़ गई हैं। यहां 15 लाख लोग अब भी कई दिनों से बाढ़ प्रभावित इलाकों में फंसे हुए हैं। जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि हमारा ध्यान दवाओं और क्लोरीन जैसी पानी को शुद्ध करने की दवाओं पर है। क्लोरीन के लाखों टैबलेट वितरित किए जा रहे हैं। हमने नगर निकायों से कहा है कि साफ सफाई व्यवस्था को सक्रिय किया जाए। हमारी मुख्य चिंता बचाव और भोजन की व्यवस्था है। बीमारियों और महामारी की रोकथाम हमारी प्राथमिकता है। उमर ने कहा कि राज्य में 1.5 लाख लोग अब भी फंसे हुए हैं। अधिकारियों ने बताया कि राज्य के बाढ़ ग्रस्त इलाकों से अब तक 1,42,000 लोगों को बचाया गया है लेकिन अब भी हजारों लोग फंसे हुए हैं। अधिकारियों ने जम्मू-कश्मीर में पिछले 109 सालों में आई सबसे भीषण बाढ़ से हुई तबाही की भयावहता का आकलन किया और राज्य के मंत्रियों का एक प्रतिनिधिमंडल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिला और उनसे प्राकृतिक आपदा को एक राष्ट्रीय आपदा घोषित करने और जल्द से जल्द राज्य में हालात सामान्य करने के लिए एक उदार एवं व्यवहारिक वित्तीय एवं विशेष पुनर्वास पैकेज की घोषणा करने का अनुरोध किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post SPECIAL STAFF BUSTED AN INTERSTATE GANG, ENGAGED IN SUPPLYING ILLEGAL FIREARMS
Next post न मनाएं मेरा जन्मदिन: बाढ़ पीड़ितों की मदद करें: PM मोदी