November 26, 2022

कोविड-19 के 5.5 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हुए; रिकवरी दर 63.02 प्रतिशत

केंद्र सरकार और राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा केंद्रित और समन्वित उपायों के माध्यम से कोविड-19 रोगियों की जल्द से जल्द पहचान करने, सही समय पर निदान करने और प्रभावी नैदानिक प्रबंधन के कारण, ठीक हुए मामलों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। समय पर निदान के साथ-साथ तीव्र गति के साथ परीक्षण ने, रोग को उन्नत चरण में बढ़ने से पहले ही कोविड प्रभावित रोगियों की पहचान की है; कंटेनमेंट क्षेत्रों और निगरानी गतिविधियों के प्रभावी कार्यान्वयन के कारण यह सुनिश्चित किया जा सका है कि संक्रमण की दर नियंत्रण में रहे। होम आइसोलेशन के लिए देखभाल मानदंडों और मानकों के साथ-साथ ऑक्सीमीटर के उपयोग ने अस्पतालों के बुनियादी ढांचे पर बिना बोझ डाले बिना लक्षण या हल्के लक्षण वाले रोगियों को नियंत्रित रखने में सहायता प्रदान की है। इस प्रकार की वर्गीकृत नीति और समग्र दृष्टिकोण के कारण, पिछले 24 घंटों में 18,850 लोग स्वस्थ्य हुए है, जिससे कोविड-19 रोगियों के बीच ठीक हुए मामलों की कुल संख्या बढ़कर 5,53,470 हो गई है। आज ठीक होने की दर बढ़कर 63.02 प्रतिशत हो गई है। 19 राज्यों में ठीक होने दर राष्ट्रीय औसत से अधिक है।

सक्रिय मामलों की संख्या 3,01,609 है और सभी अस्पतालों, कोविड देखभाल केंद्रों या होम आइसोलेशन में चिकित्सा निगरानी के अंतर्गत हैं। सक्रिय मामलों की तुलना में, ठीक हुए मामलों की संख्या 2,51,861 अधिक है। गंभीर मामलों के नैदानिक प्रबंधन पर जोर देने के कारण भारत में मृत्यु दर भी घटकर 2.64 प्रतिशत हो गई है। दिल्ली का एम्स अस्पताल, कोविड-19 राष्ट्रीय टेलीकंसल्टेशन सेंटर के माध्यम से समर्पित कोविड अस्पतालों (डीसीएच) को लगातार नियंत्रित कर रहा है। देश के 30 राज्यों में मृत्यु दर, राष्ट्रीय औसत से कम है।

पिछले 24 घंटे में 2,19,103 नमूनों का परीक्षण किया गया। अब तक परिक्षण किए गए नमूनों की कुल संख्या 1,18,06,256 हो चुकी है। प्रति दस लाख पर परीक्षणों की संख्या बढ़ रही है जो कि वर्तमान समय में 8555.25 है। देश में परीक्षण प्रयोगशाला के नेटवर्क को और मजबूत किया गया है, वर्तमान समय में देश में 1,200 प्रयोगशालाएं हैं; जिसमें सरकारी क्षेत्र में 852 प्रयोगशालाएं और निजी क्षेत्र में 348 प्रयोगशालाएं हैं। जिनमें शामिल हैं:

रियल-टाइम आरटी पीसीआर आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 626 (सरकारी:389+ निजी: 237)
ट्रू एनएटी आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 474 (सरकारी: 428+ निजी: 46)
सीबी नाट आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 100 (सरकारी: 35+ निजी: 65)
कोविड-19 से संबंधित तकनीकी मुद्दों, दिशा-निर्देशों और सलाहों के बारे में सभी प्रामाणिक और अद्यतन जानकारी के लिए, नियमित रूप से देखें: https://www.mohfw.gov.in/ और @MoHFW_INDIA

कोविड-19 से संबंधित तकनीकी प्रश्नों को technicalquery.covid19@gov.in पर और अन्य प्रश्नों को ncov2019@gov.in पर ई-मेल और @CovidIndiaSeva पर ट्वीट पूछा जा सकता है।

कोविड-19 से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के हेल्पलाइन नंबर- : +91-11-23978046 or 1075 (टोल फ्री) पर कॉल करें।

कोविड-19 पर राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों के हेल्पलाइन नंबरों की सूची https://www.mohfw.gov.in/pdf/coronvavirushelplinenumber.pdf पर उपलब्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post उत्तरी दिल्ली के महापौर ने धार्मिक स्थलों पर शुरू किया सैनिटाइजेशन कार्य
Next post भारतीय रेलवे 2030 तक “हरित रेलवे” बनने के मिशन मोड पर