December 7, 2022

झज्जर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, अवैध हथियारों के साथ आपराधिक गिरोह के तीन बदमाश काबू

बहादुरगढ़

झज्जर पुलिस की सीआईए प्रथम बहादुरगढ़ की टीम द्वारा अवैध हथियारों के साथ एक अपराधिक गिरोह के तीन आरोपियों को काबू करने में बडी सफलता हासिल की गई है। अवैध हथियारो के साथ पकड़े गए आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में अनेक अपराधिक वारदातों के संबंध में खुलासा हुआ। एसपी श्री वसीम अकरम के कुशल नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में कार्यवाही करते हुए अपराध जांच शाखा प्रथम बहादुरगढ़ की टीम द्वारा तीन आरोपियों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की गई। अवैध हथियारों के साथ तीनों आरोपियों को थाना सदर बहादुरगढ़ क्षेत्र से काबू किया गया। 

             पकड़े गए आरोपियों के संबंध में के संबंध में सीआईए प्रथम बहादुरगढ़ के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार ने विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सीआईए प्रथम बहादुरगढ़ में तैनात सहायक उप निरीक्षक रवि कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम थाना सदर बहादुरगढ़ क्षेत्र में तैनात थी। टीम को गुप्त सूचना मिली कि एक अपराधी गिरोह के तीन बदमाश अवैध हथियार लिए हुए बस अड्डा गांव नुना माजरा के पास अपने किसी साथी की इंतजार में खड़े हैं। गुप्त सूचना पर पुलिस टीम तत्परता से मौके पर पहुंची। पुलिस की गाड़ी को देखकर तीनों नौजवान लड़के भागने लगे। जिस पर तत्परता से कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम द्वारा तीनों नौजवान लड़कों को काबू किया गया। पकड़े गए युवको के कब्जे से मौका पर तीन देशी पिस्तौल व 17 जिंदा कारतूस बरामद हुए। पूछताछ में पकड़े गए आरोपियों ने अपने नाम धर्मेंद्र उर्फ धर्मा पुत्र सोमबीर निवासी गांव चिड़िया जिला चरखी दादरी, मोहित पुत्र जय सिंह निवासी आदमपुर दाढ़ी जिला चरखी दादरी तथा जतिन पुत्र समुंदर निवासी गांव भादुरी जिला चरखी दादरी बतलाया। अवैध हथियारों के साथ पकड़े गए तीनों आरोपियों के खिलाफ शस्त्र अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए थाना सदर बहादुरगढ़ में आपराधिक मामला दर्ज किया। उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में गांव भागवी जिला चरखी दादरी में 07 नवंबर 2022 को मनदीप उर्फ भोलू पर जान से मारने की नियत से फायर करने की वारदात बारे खुलासा हुआ।

               उन्होंने बताया कि अवैध हथियारों के साथ पकड़े गए आरोपी काला निवासी साहूवास के सदस्य है। तीनों आरोपी प्रदीप निवासी गांव कासनी तथा अमित निवासी फतेहगढ़ को मारने की फिराक में थे। जो पुलिस की सतर्कता के चलते पकड़े गए। इनका एक साथी आकाश उर्फ गोल्डी साल्हावास क्षेत्र से अवैध हथियार के साथ पकड़ा गया है। गिरफ्त में आए आरोपियों के खिलाफ अनेक अपराधिक मामले दर्ज है। आरोपी धर्मेंद्र उर्फ धर्मा के खिलाफ आठ तथा मोहित के खिलाफ 6 आपराधिक मामले दर्ज है। अवैध हथियारों के पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए तीनो को अदालत में पेश किया गया। माननीय अदालत के आदेश अनुसार एक आरोपी जतिन को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पकड़े गए 02 आरोपियों धर्मेंद्र तथा मोहित को पूछताछ के लिए 03 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया। मामले की गहनता से जांच पड़ताल जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर लोगों से लूटपाट करने वाले 4 बदमाश गिरफ्तार
Next post ट्राले का घोड़ा चोरी के मामले में एक आरोपी गिरफ्तार