December 2, 2022

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने खुदरा व ईकॉमर्स दिग्गजों को दिल्ली में निवेश के लिए किया आमंत्रित

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री ने दिल्ली की अर्थव्यवस्था में निवेश करने के लिए खुदरा और ई-कॉमर्स फर्मों के लिए उपलब्ध विभिन्न अवसरों की जानकारी दी है। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया गुरुवार को एक वेबिनार के माध्यम से ‘इन्वेस्ट इंडिया एक्सक्लूसिव इन्वेस्टमेंट फोरम’ को संबोधित कर रहे थे। इसमें प्रमुख खुदरा और ई-कॉमर्स कंपनियों के दिग्गज शामिल थे। इन्वेस्ट इंडिया, नेशनल इंवेस्टमेंट प्रमोशन एंड फैसिलिटेशन एजेंसी ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित मंच का उद्देश्य एक-दूसरे के विचारों को साझा करने, अनुकूल नीतियों, तैयार बुनियादी ढांचे और दिल्ली के अन्य औद्योगिक पारिस्थितिकी तंत्र के विवरणों को प्रदर्शित करने के लिए राज्य सरकार और संभावित निवेशकों को एक साझा मंच पर लाना था।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोविड-19 महामारी का प्रतिकूल प्रभाव स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों से ज्यादा समय तक वित्त पर रहेगा। दिल्ली कोविड-19 महामारी के बाद कई चुनौतियों का सामना करने के बावजूद अपनी अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए तैयार है। इन्वेस्ट इंडिया एक्सक्लूसिव इन्वेस्टमेंट फोरम इच्छुक कंपनियों के साथ निवेश और सहयोग करने के लिए एक बेहतरीन मार्ग खोलने की शुरुआत है।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में निजी कंपनियों के लिए एक बेहतरीन निवेश की परिस्थितियाँ मौजूद हैं। हमारे राज्य का जीडीपी पिछले 7 वर्षों में दोगुना हो गई है। हमारे पास प्रति व्यक्ति आय 3,89,000 रुपये है, जो राष्ट्रीय औसत से 3 गुना ज्यादा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में हमारे पास एक प्रभावी जन-केंद्रित सरकार है। सभी आर्थिक संकेतक बताते हैं कि यह उच्चतम वृद्धि ईमानदार और प्रगतिशील सरकार के कारण संभव हुई है। इसे तीसरी बार भारी बहुमत से फिर से चुना गया है।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के साथ बैठक में भाग लेने वाले डीएसआईआईडीसी के एमडी विकास आनंद ने दिल्ली सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार के व्यापार और सेवा क्षेत्रों दिए गए निवेश के अवसरों पर बल देते हुए कहा कि दिल्ली में पर्यटन और हाॅस्पिटलिटी, ऑटोमोबाइल पार्ट्स, हथकरघा और हस्तशिल्पय रत्न, आभूषण और इत्र, पैकेज्ड फूड्स, लेदर गुड्स एंड गारमेंट्स, स्टील फैब्रिकेशन, ई-कॉमर्स, रिटेल, इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी जैसे क्षेत्रों में निवेश के लिए पर्याप्त भूमि उपलब्ध है। मुंडका नॉर्थ वेयर हाउसिंग क्लस्टर के साथ-साथ अन्य औद्योगिक क्षेत्रों में क्षमता उपलब्ध है। रिटेल या सोर्सिंग ऑपरेशन स्थापित करने की इच्छुक कंपनियों के लिए आदर्श होगा।

श्री सिसोदिया ने कहा कि इंवेस्ट इंडिया फोरम ने दिल्ली को हमेशा एक आशा और अवसरों की तरह पेश किया है, क्योंकि दिल्ली में हमेशा यह काफी संभावना मौजूद रही है।

इस मंच में दुनिया भर के 30 देशों के निवेशकों ने भाग लिया। अमेरिका, जापान, जर्मनी, ब्रिटेन, स्विट्जरलैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसे दुनिया भर के देश शामिल रहे, जिसमें 20 उद्योग क्षेत्रों, जिसमें एपियरल्स, ऑटोमोबाइल, ईकॉमर्स हेल्थकेयर, स्पोर्ट्सवियर ने वेबिनार में भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post महापौर ने बालकराम अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड का किया निरीक्षण
Next post बवासीर आमतौर पर 40 से 60 वर्ष की उम्र में होता है यह रोग !