December 3, 2022

तेजाब का स्टाॅक रखने वाले 97 गोदामों पर छापे, 10 पर लगा जुर्माना

दिल्ली सरकार के राजस्व विभाग ने तेजाब के व्यापार में शामिल व्यापारियों के 97 गोदामों का निरीक्षण किया। जांच के दौरान 12 गोदामों पर नियमों का उल्लंघन पाया गया। इसकी जानकारी देते हुए दिल्ली सरकार के राजस्व विभाग के सचिव ज्ञानेश भारती ने बताया कि 10 गोदामों पर कार्रवाई करते हुए 109000 रुपए की जुर्माना राशि वसूली गई है। ये कार्रवाई उच्चतम न्यायालय द्वारा जारी निर्देशो के अनुपालन पर की गई है।

भारती ने ने बताया कि राजधानी के विभिन्न स्थानों पर स्थित गोदामों पर छापा मारा गया। छापे के दौरान अवैध रूप से तेजाब स्टाॅक करने वाले गोदामों की सधन तलाशी ली गई। जिसमें नियमों का उल्लघंन करने वाले 12 गोदामों की पहचान की गई। उन्होंने आगे बताया कि राजस्व विभाग लगातार अवैध रूप से तेजाब स्टाॅक करने और बेचने पर नियमित निरीक्षण कर रहा है।

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय के आदेशानुसार कोई भी दुकानदार बिना लाइसेंस के न तो तेजाब स्टाॅक कर सकता है और न ही उसे बेच सकता है। साथ ही उसी व्यक्ति को तेजाब बेचा जा सकता है जिसके पास अपना फोटो वाला सरकारी पहचान पत्र हो, साथ ही उसे तेजाब खरीदने का उद्देशय भी बताना होगा। दुकानदार को तेजाब के स्टाॅक और बिक्री की जानकारी 3 दिनों के भीतर स्थानीय पुलिस को देनी होगी जिसे बाद में उस इलाके के एसडीएम को सौंपनी होगी, ऐसा न करने पर दोषी दुकानदार पर 50000 रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है। आदेशानुसार, 18 साल के कम कोई व्यक्ति तेजाब नहीं खरीद सकता। इसके अलावा प्रयोगशालाओं, अस्पतालों और अन्य संस्थानों में तेजाब का गैर-हानिकारक मिश्रण का ही सिर्फ इस्तेमाल किया जा सकता है, साथ ही इन संस्थानों में परिसर छोड़ते समय छात्रों और कर्मचारियों की अनिवार्य चेकिंग की जाएगी ताकि तेजाब का गलत इस्तेमाल न हो सके।

रिषु शर्मा

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post RAILWAY RUNS WEEKLY ‘PREMIUM’ EXPRESS SPECIAL TRAIN BETWEEN SEALDAH AND DELHI JN. (
Next post लोक निर्माण विभाग ने किया आश्रम चाॅक पर फ्लाईओवर के विस्तार जोड़ो के बदलने का कार्य