December 2, 2022

दिल्ली के तीनों नगर निगमों ने शूरू किया ’’गंदगी मुक्त दिल्ली अभियान’’

उत्तरी दिल्ली के महापौर जय प्रकाश, दक्षिणी दिल्ली की महापौर, अनामिका मिथिलेश और पूर्वी दिल्ली के महापौर श्री निर्मल जैन ने आज प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि दिल्ली की तीनों नगर निगम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए “गंदगी भारत छोड़ो” अभियान के अंतर्गत पूरी दिल्ली में गंदगी मुक्त करने के लिए अभियान चलाएंगी।
उत्तरी दिल्ली के महापौर, जय प्रकाश ने बताया कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए “गंदगी भारत छोड़ो” अभियान के अंतर्गत दिल्ली नगर निगम गंदगी मुक्त दिल्ली अभियान चलाएगी। इस अभियान में हर क्षेत्र के सफाई व्यवस्था का बारीकी से जायजा लिया जाएगा। इसके अंतर्गत ठोस अपशिष्ट पदार्थों का निपटान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम प्रति दिन 4500 मीट्रिक टन कूड़ा उठाती है जिसमें से 2300 मीट्रिक टन कूड़ा नरेला बवाना संयंत्र में भेजा जाता। उन्होंने बताया कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अंतर्गत 550 डलाव है जिस में से 303 डलावो को बंद कर के 61 कॉम्पेक्टर मशीनें लगाई गई हैं। उन्होंने बताया कि निगम कूड़ा निष्पादित के लिए निगम 55 कॉम्पेक्टर मशीनें और 6 मोबाईल कॉम्पेक्टर मशीनें लगाएगी। उन्होंने बताया कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम 15 ट्रॉम्मेलिंग मशीनों के माध्यम से भलस्वा लैंडफिल साइट पर 2000 मीट्रिक टन कूड़े का निपटान कर रही हैं।

जय प्रकाश ने कहा की इस अभियान को सफल बनाने के लिए नागरिकों का सहयोग आवश्यक है। उन्होंने दिल्ली के नागरिकों से दिल्ली को स्वच्छ और हरभरा बनाने में उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों की मदद करने की अपील की। श्री जय प्रकाश ने कहा कि इस अभियान में जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से नागरिकों को स्वच्छता संबंधित गतिविधियों के बारे में जागरूक किया जाएग।
महापौर अनामिका ने प्रेस वार्ता में कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री द्वारा चलाए जा रहे “गंदगी भारत छोड़ो अभियान” की शुरुआत करते हुए आज प्राथमिक विद्यालय जैतपुर में सफाई अभियान चलाया। उन्होंने कहा कि दक्षिणी निगम भी अपने सभी 104 वार्ड में स्थानीय पार्षदों, आरडब्ल्यूए, मार्किट एसोसिएशन, धार्मिक और समाजिक संगठनों के सहयोग से व्यापक स्तर पर ऐसे सफाई अभियान चलाएगा। उन्होंने कहा कि वे स्वयं हर ज़ोन में जाकर सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करेंगी और इस कार्य में आयुक्त से लेकर सफाई कर्मचारी तक की सहभागिता आवश्यक है। अनामिका ने कहा कि सभी सार्वजनिक स्थानों, धार्मिक स्थलों और मुख्य बाजारों में सफाई और जन जागरूकता के कार्यक्रम भी चलाए जाएंगे।
महापौर ने बताया कि द.दि.न.नि. दक्षिणी निगम ने क्षमता से अधिक प्रयोग की गई लैंडफिल साइट की ऊँचाई को कम करने के लिए निरंतर प्रयास किए हैं। आईआईटी दिल्ली की सलाह पर इसकी ऊँचाई कम करने के लिए वैज्ञानिक तरीकों का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसके अलावा पिछले दो वर्ष में चारों ज़ोन में लगभग 7000 नीले और हरे कूड़ेदान लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि कूड़े के उचित निष्पादन के लिए अभी तक चार बायोमीथेनेशन प्लांट और चार आईटीपीडी ड्रम कंपोस्टर प्लांट लगाए गए हैं जिसके द्वारा जैविक कचरे को प्रोसेस करके बिजली, खाद और कंपोस्टर बनाया जा रहा है।
पूर्वी दिल्ली के महापौर, श्री निर्मल जैन ने कहा कि निगम व सफाई आपस में पर्यायवाची हैं। माननीय प्रधानमंत्री जी ने ‘गंदगी मुक्त भारत’ का जो नारा दिया है, हम सभी मिलकर उस पर अमल करेंगे। हमने सभी पार्षदों से अनुरोध किया है कि वे अपने-अपने वार्ड में निगम अधिकारियों के साथ मिलकर विशेष सफाई अभियान आयोजित करें। त्यौहारों में सघन सफाई अभियान चलाए जाएं।
हम कूड़े के बेहतर निष्पादन के लिए भी लगातार काम कर रहे हैं। पूर्वी दिल्ली नगर निगम द्वारा एक-एक टन क्षमता के 9 कम्पोस्ट प्लांट लगाए जा चुके हैं और ऐसे अन्य प्लांट लगाने का काम जारी है। माननीय सांसद, श्री गौतम गंभीर की मेहनत से हमने गाजीपुर लैंडफिल साइट की ऊंचाई कम करने में भी सफलता हासिल की है। हम कूड़े के स्रोत पर ही पृथकीकरण पर जोर दे रहे हैं ताकि कम से कम कूड़ा लैंडफिल साइट पर जाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post BSF FOILED ATTEMPTS OF SMUGGLING – SEIZED 318 BOTTLES OF PHENSEDYL
Next post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2300 किलोमीटर लंबी सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल का उदघाटन