December 9, 2022

दिल्ली के तीनों निगमों के पार्षदों नें दिल्ली सरकार के खिलाफ निगम का फंड नहीं देने के लिए निकाला मार्च

दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता, दक्षिणी दिल्ली की महापौर, अनामिका मिथिलेश, पूर्वी दिल्ली के महापौर श्री निर्मल जैन और दिल्ली के तीनों निगमों के पार्षदों ने दिल्ली सरकार के खिलाफ तीनों निगमों का बकाया फंड और कर्मचारियों के वेतन के लिए फंड नहीं देने पर सिविक सेंटर से मार्च निकाला।

इस अवसर पर आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली सरकार निगम का बकाया फंड ना दे कर उसे पंगू बनाना चाहती है ताकि नगर निगम दिल्लीवासियों के लिए विकास कार्य ना कर सके व अपने कर्मचारियों को समय पर वेतन ना दे सके। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के पास निगम के कार्मचारियों को वेतन देने के लिए फंड नहीं है मगर विज्ञापनों पर खर्च करने के लिए करोड़ो का फंड है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी निगम में हार का बदला निगम कर्मचारियों को वेतन का फंड ना दे कर ले रही है।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम में नेता सदन श्री योगेश वर्मा ने कहा कि दिल्ली सरकरा उत्तरी दिल्ली नगर निगम का फंड ना दे कर राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि आज हमारे कर्मचारी वेतन के लिए सड़को पर उतर आए हैं और हम सब निगम पार्षद अपने निगम कर्मचारियों के साथ हैं। उन्होंने कहा कि हम अपने कर्मचारियों के लिए हमेशा आवाज़ उठाते रहेंगे और अपने कर्मचारियों को उनका हक दिलवा के रहेंगे।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम में स्थायी समिति के अध्यक्ष, छैल बिहारी गोस्वामी ने कहा कि दिल्ली सरकार ने अभी तक वर्तमान दो तिमाही का कुल रू 1054 करोड़ का फंड नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि यदी दिल्ली सरकार पिछला बकाया और वर्तमान दो तिमाही का फंड उत्तरी दिल्ली नगर निगम को दे दे तो निगम की देनदारी खत्म हो जाएगी और निगम बकाया राशि से विकास कार्यों को कर सकेगी व निगम के कर्मचारियों का बकाया भी दे सकेगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली के अंदर एक ऐसी सरकार है जो जानबूझ कर निगम का फंड रोक रही है ताकि विकास कार्यों में बाधा उतपन्न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post नये फैक्ट्री लाईसैंस जारी करने व पुराने लाईसैंस रिन्युवल करने के लिए निगम प्रत्येक वार्ड में कैम्प लगवाएगी – योगेश वर्मा
Next post 20 साल शिक्षा लेने के बाद 80% बच्चों को रोजगार योग्य नहीं समझा जाता, इसे सुधारना जरूरी-मनीष सिसोदिया