December 9, 2022

दिल्ली के पश्चिम विहार इलाके मे 12 साल की मासूम के साथ हैवानियत, स्वाति मालीवाल ने दिल्ली पुलिस पर खड़े किए सवाल

संदीप राणा की रिपोर्ट

देश की राजधानी दिल्ली के पश्चिम विहार में एक 12 साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी भरी दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। पुलिस ने कल शाम बच्ची को मंगोलपूरी स्थित संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया तो उसके गुप्तांगों से लगातार ब्लीडिंग हो रही थी, पूरा शरीर खून से लथपथ था, उसके सिर और हिप्स में किसी धारदार हथियार से कई वार किए गए थे। जहाँ उसकी हालात को देखकर उसका इलाज करने वाले डॉक्टर्स और अन्य मेडिकल कर्मियों का भी दिल पसीज उठा। संजय गांधी स्थित डॉक्टरों की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद उसे प्रारंभिक उपचार और टांके लगाने के बाद एम्स रेफर कर दिया। एम्स में भी बच्ची की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। पुलिस के आधिकारिक सूत्रों का कहना है की बच्ची के ऊपर घर में हमला किया गया जिस समय वह अकेली थी। आशंका है कि उसके साथ ब्रूटल रेप और अटेम्प्ट मर्डर हुआ है। उसके नाजुक अंगों पर भी हथियार से हमला किया गया है जैसा कि डॉक्टरों ने मौखिक तौर पर बताया है।

हालांकि अभी तक रेप की कोई आधिकारिक पुष्टि पुलिस या अस्पताल की ओर से नही की गई है। लेकिन पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि फिलहाल मेडिकल रिपोर्ट नहीं मिलने की वजह से रेप की पुष्टि नहीं की जा सकती, हो सकता है कि किसी सिरफिरे ने ही बच्ची पर घातक हमला किया हो। अब ऐसे में अभी तक परिवार और पुलिस को समझ मे नही आ रहा है कि बच्ची के साथ ऐसी हैवानियत किसने और क्यों कि होगी। वहीं एक मासूम के साथ किसी अज्ञात द्वारा की गयी इस वीभत्स घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है और स्थानीय लोग काफी ज्यादा डरे सहमे हुए हैं। क्योंकि जिस तरह से दिन दहाड़े घर मे घुसकर एक मासूम बच्ची के साथ हैवानियत की सारी हदें पार की गई हैं वो सच मे काफी डराने वाली हैं। वहीं महिलाओ और बच्चियों के साथ आये दिन आपराधिक वारदाते होती रहती हैं लेकिन इस मामले ने हर किसी को अंदर तक झकझोर कर रख दिया है। वहीं बच्ची की गंभीर हालत को देखते हुए उसके साथ रेप की आशंका से भी इंकार नही किया जा सकता है।

दूसरी ओर इस मामले में दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने भी हस्तक्षेप करते हुए इस घटना पर अपना दर्द बयान किया है। साथ ही स्वाति मालीवाल ने इस वारदात में दिल्ली पुलिस पर भी कई सवाल खड़े किए हैं।

बरहाल इस मामले की गंभीरता को समझते हुए जिले के DCP डॉ ए कोन की देखरेख में पश्चिम विहार के ACP विनय माथुर खुद इस मामले की बड़ी बारीकी से जांच कर रहे हैं और लगभग पूरे थाने की पुलिस समेत जिले का स्पेशल स्टाफ भी इस मामले को सुलझाने में लगा हुआ है। और पुलिस की कई टीमें इस केस से जुड़े हर छोटे बड़े पहलू पर काम कर रही है वहीं कल से कई दर्जन लोगों से पुलिस पूछताछ की जा चुकी है। साथ ही घटनास्थल के आसपास लगे CCTV कैमरो की फुटेज भी खंगाली जा रही है ताकि मासूम के साथ हैवानियत करने वाले का कोई सुराग पुलिस के हाथ लग सके। लेकिन इस ह्रदय विदारक घटना ने कहीं न कहीं एक बार फिर से निर्भया केस की यादें ताज़ा कर दी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post BSF SEIZED 930 NOS YABA TABLETS FROM SOUTH SALAMARA, ASSAM
Next post भ्रष्टाचार के कारण ये कॉलेज गवर्निंग बाॅडी बनाने में देर कर रहे हैं और दिल्ली सरकार के मनोनित सदस्यों को लेने से इन्कार कर रहे – उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया*