PHONE : +91-011-23626019
+91-011-43785678
(M) 09811186005,09873388468
09911186005
Email : crimehilore@gmail.com ,
editor.crimehilore@gmail.com


Breaking News
दिल्ली सरकार ने 2015 से 2019 तक 8147 करोड़ रुपये खर्च कर कच्ची कालोनियों का कायापलट किया – अरविंद केजरीवाल

दिल्ली सरकार ने 2015 से 2019 तक 8147 करोड़ रुपये खर्च कर कच्ची कालोनियों का कायापलट किया – अरविंद केजरीवाल

दिल्ली:जिस तरह पांच साल में कच्ची कालोनियों में विकास हुआ उतना सत्तर साल में कभी नहीं हुआ। आम आदमी पार्टी से पहले की सरकार की नियत खराब थी। वह विकास करना नहीं चाह रही थी। आम आदमी पार्टी की सरकार ने वर्ष 2015 – 2019 तक 8147 करोड़ रुपये खर्च कर कच्ची कालोनियों का कायापलट कर दिया। मुख्यमंत्री ने कहा जिस तरह पांच साल में कच्ची कालोनियों में विकास हुआ, वह पहले भी हो सकता था। लेकिन पहले की सरकारों की नियत साफ नहीं थी। इसे इस बात से भी समझा जा सकता है कि वर्ष 2009 से 2014 तक कच्ची कालोनियों पर महज 1186 करोड़ रुपये खर्च हुए। जबकि आम आदमी पार्टी ने लगभग आठ गुना अधिक खर्च कर कच्ची कालोनियों में विकास कराई।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा दिल्ली में नौकरी की तलाश में लोग आते गए। तीस चालीस साल में बहुत ज्यादा लोग आए। डीडीए की जिम्मेदारी थी सस्ते घर दिलाने की। उसने उतने घर नहीं बनाए, इस कारण कच्ची कालोनियां विकसित हो गई। सत्तर साल तक अन्य सरकारों ने काम नहीं किया, इस कारण इन कालोनियों में विकास नहीं हो पाया। सीएम ने कहा कच्ची कालोनियां रहने लायक़ नहीं थी। हमने पांच साल में कच्ची कालोनियों में रहने वालों को सम्मान दिलाया। हमने सड़कें बनवाई नालियाँ बनवाई। जिससे बरसात का पानी घर में जाना बंद हुआ। सीवर की लाइनें डलवाई। 24 घंटे बिजली की व्यवस्था कराई गई। दो सौ यूनिट मुफ्त बिजली दी गई। 20 हजार लीटर मुफ्त पानी दिया गया। इससे कच्ची कालोनी में रहने वालों का जीवनस्तर भी दिल्ली के अन्य हिस्सों में रह रहे लोगों के बराबर हुआ। आज कच्ची कालोनी में रहने वाले भी गर्व से कह सकते हैं कि हम दिल्ली का हिस्सा हैं।

कच्ची कालोनियों में रहने वालों का जीवन बदलने का वादा पूरा किया -अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पांच साल पहले कच्ची कालोनियों का हाल बेहाल था। मैं 2015 के विधानसभा चुनाव के दौरान कच्ची कालोनियों में जाता था तो वहां रह रहे लोगों की परेशानी से रू ब रू होता था। मैंने तभी लोगों से वादा किया था कि सरकार बनने के बाद कच्ची कालोनियों को नरकीय जीवन से बाहर निकाला जाएगा। पिछले पांच साल में कच्ची कालोनियों का कायापल्ट हुआ है। सड़कों का निर्माण कराया गया। सीवर लाईन डलवाया गया। अब 24 घंटे व दो सौ यूनिट तक मुफ्त बिजली मिल रही है। लोगों को मुफ्त पानी मिल रहा है। सीसीटीवी कैमरे लग गए। विधायक निधि से कच्ची कालोनियों में गेट लगवाया गया। मोहल्ला क्लीनिक का सबसे ज्यादा फायदा इन कालोनियों में रह रहे लोगों को हो रहा है। पिछले पांच साल में कच्ची कालोनियों में रह रहे लोगों का जीवन स्तर बिल्कुल बदल गया है। सरकारी स्कूलों में बच्ची अब निजी स्कूल के स्तर की शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। हमने 8 हजार करोड़ से अधिक रुपये खर्च कर पानी, नाली, सीवर व बिजली की व्यवस्था कर दी। कच्ची कालोनियों में स्ट्रीट लाइट पर भी नियम बना दिया गया है। अब सभी स्ट्रीट लाईट के रखरखाव की जिम्मेदारी दिल्ली सरकार करेगी। दिल्ली की कच्ची कालोनियों में स्थित सेप्टिक टैंक की मुफ्त सफाई भी अब दिल्ली सरकरा कराएगी। इस तरह कच्ची कालोनियों में रहने वालों का जीवन बदलने का वादा पूरा किया।

कच्ची कालोनी में रहने वालों को दिलाया सम्मान का जीवन -अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पांच साल पहले जब मैं कच्ची कालोनियों में जाता था तो लोगों का हाल देख बेहद पीड़ा होती थी। लोगों के घरों में बारिश का पाना जाता था। सड़कें नहीं थी। आलम यह था कि लोगों के लड़कों की शादी तक नहीं होती थी। लड़की वाले आते थें और कच्ची कालोनियों का हाल देखकर लौट जाते थें। कच्ची कालोनी में रहने वालों के साथ सौतेला व्यवहार होता था।
सीएम ने कहा कि पांच साल में कच्ची कालोनियों में रहने वालों को सम्मान दिलाया गया। हमने सड़कें बनवाई। जिससे बरसात का पानी घर में जाना बंद हुआ। सीवर लाईन डलवाया। 24 घंटे बिजली की व्यवस्था कराई गई। दो सौ यूनिट मुफ्त बिजली दिया गया। 20 हजार लीटर मुफ्त पानी दिया गया। इससे कच्ची कालोनी में रहने वालों का जीवनस्तर भी दिल्ली के अन्य हिस्सों में रह रहे लोगों के बराबर हुआ। आज कच्ची कालोनी में रहने वाले भी गर्व से कह सकते हैं कि हम दिल्ली का हिस्सा हैं।

कच्ची कालोनियों से जुड़े आंकड़े
दिल्ली में कुल कच्ची कालोनियां – 1797

सड़क नाली निर्माण के तुलनात्मक आंकड़े
2009 – 14 – 309 कालोनियों में सड़क नाली बनी, कुल – 811 करोड खर्च
2015 – अब तक – 1281 कालोनियों में सड़के और नाली बनी, कुल – 4312 करोड़ खर्च हुए।

पानी पाइप लाईन
2002 – 2009 – मात्र 45 कालोनियों में पानी की पाईप लाईन डली
2009 – 2014 – 245 कालोनियों में पानी की पाईप लाईन डली
2015- अब तक – 579 कालोनियों में पाईन की पाईप लाईन डली
कुल खर्च – 391 करोड़ रुपये

अब तक 1554 कालोनियों में पानी पाईप लाईन डल गई है। 250 कालोनियां बची हैं। 50 में व्यवहारिक समस्या के कारण पानी की लाईन डाल नहीं सकते। एक साल में सभी दो सौ कालोनियों में पाईन की पाईप लाईन डल जाएगी।

सीवर
2009 – 2014 – केवल 34 कालोनियों में सीवर लाईन डली
2015 – 2019 तक – 903 कालोनियों में सीवर लाईन डली।
कुल 3444 करोड़ खर्च

नोट – कुल 1130 कालोनियों में सीवर डल गई है। बाकि जगह एक दो साल में सीवर लाईन डाल दिया जाएगा।

कच्ची कालोनी विकास पर खर्च
2009 – 2014 – 1186 करोड़
2015 – 2019 – 8147 करोड़

ShareShare on Google+0Pin on Pinterest0Share on LinkedIn0Share on Reddit0Share on TumblrTweet about this on Twitter0Share on Facebook0Print this pageEmail this to someone

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*


You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>