December 9, 2022

धनपुरी में एक और गोफ बड़ा हादसा टला, दहशत में क्षेत्र के लोग

कोयलांचल नगरी धनपुरी के वार्ड क्रमांक 18 पुरानी पुलिस चौकी एयरटेल टावर के समीप एक मकान के आंगन के कुएं में 7 अगस्त की बीती रात लगभग 10.30 बजे तेज अवाज के साथ अचानक धरती फट गयी और देखते ही देखते गोफ हो गया। वहीं कुआं के समीप रखे गिट्टी रेत जमीन में समा गया। जिसकी जानकारी प्रशासन को लगी मौके पर तहसीलदार व थाना प्रभारी मौके पर पहुच मुआयना कर लोगो को वहा जाने से मना कर पुलिस बल तैनात कर दिया। और सुबह होते ही एसईसीएल की मदद से गोफ का भराव कराया। लोगो के लिए यह गोफ है या भू स्खलन से हुआ गड्ढा यह रहस्य बना हुआ है।

गोफ सुरंग को कहा जाता है जैसे जमीन के अंदर ही अंदर खुदाई कर एक स्थान से दूसरे स्थान तक माइंस के लिए रास्ता बनाया जाता है।

यह है मामला
धनपुरी नगरपालिका अन्तर्गत वार्ड नं. 18 रानी पुलिस चैकी एयरटेल टावर के समीप निवासी रफीक आली के मकान के आंगन में बने कुआ के बगल से रात्रि लगभग 10.30 बजे अचानक तेज अवाज के साथ धरती फट पड़ी और कुछ देर बाद उसका दायरा बढ़ने लगा देखते ही देखते वह विशाल रूप धारण कर लिया जिसमें मकान बनाने की सामग्री गोफ में जा समयी। जैसे लोगो को पता लगा की क्षेत्र में गोफ हो गया है। जिसे देखने लोगो का हुजूम इकट्ठा हो गया। इस गोफ से क्षेत्र के लोग भयभीत होकर घर छोड़ बाहर की ओर भागने लगे जिसके बाद मामले की जानकारी प्रशासन को दी गयी मौके पर पहुँच प्रशासनिक अमला सुरक्षा बल लगा क्षेत्र को प्रतिबंधित कर दिया। तहसील दार छमा सराफ समेत थाना प्रभारी सतीश द्विवेदी एसईसीएल का रेस्क्यूं दल भी वहां आ गया था। लोगों की सुरक्षा को देखते हुये एसईसीएल तत्काल जेसीबी मशीन से ओबी मिट्टी से गड्ढे को भरवाया इस कार्य में एसईसीएल की भूमिका सराहनीय रही।

एसईसीएल की मदद से कराया गया भराव
उक्त क्षेत्र में हुये गोफ में मकान की सामग्री समा जाने की जानकारी थाना प्रभारी सतीश द्विवेदी ने एसईसीएल सोहागपुर जी एम से दी मामले को गंभीरता लेते हुए सवेरिया को मौके पर भेज मुआयना किया जिसके बाद सुबह सवेरिया ने कॉलरी रेस्क्यूटीम गुरुवार सुबह मौके पर पहुंच गोफ का भरवा कराया गया।

लगातार बारिश बना कारण
स्थानीय लोगों की माने तो बीते दो दिन से लगातार हुई बारिश के चलते कुआ के समीप गड्ढे में पानी का भराव होता रहा। जिसके चलते गोफ हो गया। जिस जगह पर गोफ हुआ है वहां पर मकान बनाने की सामग्री राखी थी। जिससे जमीन पर दबाब पड़ने से उक्त स्थान की मिटटी का स्खलन हो गया और जोर दार धमाका हुआ गोफ हो गया। जमीन फटने से हुए गोफ के चलते बड़ा हादसा होते-होते टल गया।

बना रहस्य
रात्रि पुराने थाना के समीप रफीक अली के माकन के आँगन में कुआ के बगल से हुआ भू स्खलन जिसमे माकन बनाने की सामग्री समां गई। और दबाब पडने पर कुआ के पानी ऊपर की ओर आ गया। वही जानकारों का कहना है की यदि उक्त स्थान पर गोफ होता तो कुआ भी बैठ जाता और कुआ का पानी जमीन के निचे चला जाता। लेकिन ऐसा नहीं हुआ बल्कि कुआ का पानी और ऊपर की और आ गया। लोगो के लिए यह गोफ है या भू स्खलन से हुआ गड्ढा यह रहस्य बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post उत्तरी नगर निगम ने आरंभ किया स्वतंत्रता दिवस से पूर्व ’’ विशेष सफाई एवं स्वच्छता अभियान’’
Next post छलकने को आतुर बाणसागर बांध