December 2, 2022

पूर्वोत्तर राज्यों की यात्रा हेतु विद्यार्थियों को रेल किराये में 60 प्रतिशत की रियायत

भारतीय रेल, प्रदर्शिनी तथा विशेष रेलगाड़ियां चलाकर विभिन्न बिन्दुओं पर ध्यान आकर्षित करने हेतु यातायात के माध्यम द्वारा एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है । विद्यार्थी वर्ग की सुविधा हेतु भारतीय रेल आईआरसीटीसी के सहयोग से दिल्ली विश्वविद्यालय के कार्यक्रम अनुसार ज्ञानोदय एक्सप्रेस रेलगाड़ी चला रही है जिसके द्वारा पूर्वोत्तर राज्यों की विभिन्न जानकारियों से विद्यार्थियों को अवगत कराया जायेगा । अभी हाल ही में दिनांक 08.12.2014 को जारी की गई अधिसूचना के अन्तर्गत भारत की किसी भी क्षेत्र से आईआरसीटीसी द्वारा प्रायोजित विशेष रेलगाड़ियों/डिब्बों में बुक किए गए पात्र विद्यार्थियों को पूर्वोत्तर राज्यों की रेल यात्रा करने पर रेल किराये में 60प्रतिशत की रियायत दी जायेगी । यह रियायत भारत के किसी भी क्षेत्र से न्यूजलपाईगुडी सहित पूर्वोत्तर राज्यों की रेल द्वारा यात्रा करने पर शयनयान श्रेणी में मूल किराये पर दी जायेगी । उपरोक्त ट्रेन के विद्यार्थीयों को भी यह सुविधा मिली है । दिनांक 18.12.2014 को दिल्ली सफदरजंग रेलवे स्टेशन से पूर्वोत्तर राज्यों की यात्रा वाली ज्ञानोदय एक्सप्रेस का किरण रिजजू, माननीय राज्यमंत्री, आंतरिक मामले, भारत सरकार तथा सर्वनंदा सोनेवाल, युवा मामले एवं खेल मंत्री, भारत सरकार द्वारा आईआरसीटीसी के प्रबंध निर्देशक डा0 ए0 के0 मनोचा तथा दिल्ली विश्वविद्यालय के उप कुलाधिपति की उपस्थिति में हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया । इस विशेष रेलगाड़ी द्वारा लगभग 850 विद्यार्थी यात्रा कर रहे हैं जिन्हें नौ ग्रुपों में बांटा गया है ।

ज्ञानोदय एक्सप्रेस रेलगाड़ी का समय निम्नानुसार है:-
यह रेलगाड़ी दिनांक 20.12.2014 को सांय 05.00 बजे कामाख्या रेलवे स्टेशन पहुँचेगी तथा मार्ग में न्यूजलपाईगुड़ी स्टेशन पर ठहरेगी । अपनी सात दिनों की यात्रा के दौरान विद्यार्थी पूर्वोत्तर के सात राज्यों नामत: अरूणाचल प्रदेश, मिज़ोरम, त्रिपुरा, मेघालय, नागालैण्ड, असम, मणिपुर तथा सिक्किम राज्यों का भ्रमण करेंगे तथा प्रोजेक्ट कार्य के रूप में इस क्षेत्र की भाषा संस्कृति तथा अन्य विरासतों की जानकारी एकत्रित करेंगे । वापसी दिशा में ज्ञानोदय एक्सप्रेस दिनांक 27.12.2014 को पूर्वाह्न 10.45 बजे यहाँ से प्रस्थान कर दिनांक 29.12.2014 को दिल्ली सफदरजंग रेलवे स्टेशन पर पहुँचेगी।

दिल्ली विश्वविद्यालय ने आईआरसीटीसी के सहयोग से पिछले गत दो वर्षों में उत्तर तथा पश्चिमी भारत के विभिन्न स्थानों के लिए चार ज्ञानोदय रेलगाड़ियों का परिचालन किया है । इस वर्ष ज्ञानोदय एक्सप्रेस पूर्वोत्तर के सात राज्यों की सैर कराएगी । इस रेल यात्रा के दौरान विभिन्न विषयों पर एक क्लास रूम कार में व्याखयान दिए जायेंगे । प्रोफसर तथा संकाय सदस्य विद्यार्थियों के साथ रहेंगे तथा विद्यार्थियों को प्रोजेक्ट पूरा करने में सहायता करेंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post पहाडगंज, माॅडल बस्ती में उपमहापौर का दौरा, आर.जी. काॅम्पलैक्स को भेजे जायेंगे चालान
Next post RAILWAYS TO PLAN SEVEN MORE PREMIUM TRAINS