December 9, 2022

बारिश और भूस्खलन के चलते माता वैष्णो देवी यात्रा रुकी

बारिश और भूस्खलन के चलते बृहस्पतिवार शाम माता वैष्णो देवी की यात्रा रोक दी गई। यात्रा के दोनों मार्गो पर भूस्खलन से भवन में करीब दस हजार यात्री फंस गए हैं। इसके अलवा कटड़ा से निकले हजारों श्रद्धालुओं को भी अ‌र्द्धकुंवारी में रोक लिया गया है। यात्रा मार्ग को खोलने का काम युद्ध स्तर पर जारी है। वहीं पहाड़ी से पत्थर गिरने से तीन श्रद्धालु भी घायल हो गए हैं। तीन दिन से जारी बारिश के कारण बृहस्पतिवार शाम करीब चार बजे नए मार्ग पर हिमकोटि, देवी द्वार, पंक्षी मार्ग तथा माता का बाग में भूस्खलन से मार्ग को यात्रा के लिए बंद कर दिया गया। वहीं खराब मौसम को देखते हुए कटड़ा से भी यात्रा पंजीकरण रोककर यात्रा बंद कर दी गई, जबकि चार बजे से पहले रवाना हो चुके 13500 यात्रियों की पुराने मार्ग से आवाजाही जारी रही। इस बीच, रात करीब आठ बजे पुराने मार्ग पर सांझी छत्त के पास पंछी व्यू प्वांइट के पास भारी भूस्खलन से यह मार्ग भी बंद हो गया। इसके साथ ही पूरे यात्रा मार्ग पर बिजली आपूर्ति भी ठप हो गई। आनन-फानन श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड प्रशासन ने श्रद्धालुओं की सुरक्षा को देखते हुए उन्हें भवन पर ही रोक लिया, जबकि रास्ते में फंसे श्रद्धानुओं को अ‌र्द्धकुंवारी ठहराया गया। इस बीच, श्राइन बोर्ड के कर्मी व आपदा प्रबंधन दल के सदस्य यात्रा मार्ग से मलबा हटाने में जुट गए। वहीं सीआरपीएफ व पुलिस के जवान भी श्रद्धालुओं की सुरक्षा में जगह-जगह मुस्तैद कर दिए गए। रात करीब एक बजे यात्रा मार्ग पर बिजली तो बहाल हो गई, लेकिन भारी बारिश से पहाड़ से लगातार भूस्खलन से रास्ता साफ करने में काफी परेशानी पेश आ रही थी। वहीं यात्रा स्थगित होने से कटड़ा में भी करीब 20 से 25 हजार श्रद्धालु रुके हुए हैं। इससे पूर्व बुधवार देर रात वैष्णो देवी के पुराने मार्ग पर अ‌र्द्धकुंवारी के साथ लगते लंबी कैरी क्षेत्र में पत्थर गिरने से तीन श्रद्धालु घायल हो गए। घायल श्रद्धालुओं की पहचान कल्याण सिंह (51) पुत्र पदमसिंह रावत निवासी शिवपुरी ग्वालियर मध्यप्रदेश, राज कुमारी तिवारी (50) पत्नी प्रकाश तिवारी निवासी कृष्ण नगर मध्यप्रदेश और आशा रानी मिश्रा (38) पत्नी राम मिश्रा निवासी बंदायू उत्तरप्रदेश के रूप में हुई है। घायलों को इलाज के लिए कटड़ा अस्पताल पहुंचाया गया। जहां बृहस्पतिवार दोपहर बाद उन्हें छुंट्टी दे दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post कोली को फांसी के लिए भेजा गया मेरठ जेल
Next post दिल्ली में भाजपा को मिलेगा सरकार बनाने का न्योता..?