December 9, 2022

बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन..पुलिसवालो को ना दे पैसे : पुलिस कमिश्नर, भीमसेन बस्सी

दिल्ली पुलिस कमिश्नर भीमसेन बस्सी का कहना है कि इलाके में हो रहे वैध या अवैध कंस्ट्रक्शन से दिल्ली पुलिस का कोई लेना-देना नहीं है। भीमसेन बस्सी ने ये बात भी साफ़ कर दी है कि किसी भी जगह पर हो रहे कंस्ट्रक्शन को बंद नहीं करवाया जायेगा जब तक एमसीडी पुलिस को वर्क स्टॉप का नोटिस नहीं दे देती। तब तक पुलिस अपनी तरफ से कोई एक्शन नहीं लेगी । पुलिस कमिश्नर की ओर से इस आदेश का जल्द ही एक सर्कुलर जारी किया जाएगा। सर्कुलर में दिल्ली की जनता से यह अपील की गई है कि किसी भी पुलिस वाले को अवैध निर्माण रुकवाने का कोई कानूनी अधिकार नहीं है। पुलिस सिर्फ संबंधित सिविक एजेंसी को बताएगी। इसलिए वे पुलिस वालों की किसी भी तरह की मांग पूरी न करें।

आम लोगों में पुलिस को लेकर यह धारणा बनी हुई है कि क्रिमिनल और क्राइम के बारे में बीट ऑफिसर को जानकारी हो या न हो, लेकिन उसे यह पता होता है कि कॉलोनी की कौन सी गली में कहां पर कंस्ट्रक्शन चल रहा है। वह मकान मालिक से लेंटर के हिसाब से रकम की डिमांड करता है। डिमांड पूरी न होने पर वह मकान की फोटो खींचकर उसकी फाइल तैयार करने की धमकी देने के साथ साथ वो मजदूरों का सामान तक उठाकर ले जाते हैं और उन्हें दिनभर थाने में बिठाकर रखते है और जब भवन स्वामी द्वारा पुलिस की डिमांड पूरी कर दी जाती है तब कही जाकर उन्हें छोड़ा जाता है। दिल्ली पुलिस कमिश्नर का ये एक प्रयास है की दिल्ली पुलिस की इस छवि को सुधारा जा सके।

इस बात को दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने भी माना है कि जहां पर भी कोई भवन निर्माण का काम चल रहा होता है पुलिस वाले वहां पहुंचकर पैसों की डिमांड करते हैं। इस मामले में लगभग हर दिन उन्हें इस तरह की शिकायते मिल रही है। इस बात से ये साफ़ ज़ाहिर होता है की स्थानीय पुलिस का ध्यान बिल्डिंगों से पैसा बटोरने में ज्यादा है।

इन सभी बातो को ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस कमिश्नर भीमसेन बस्सी ने आम जनता से अपील की है कि अगर कोई भी पुलिस वाला किसी कंस्ट्रक्शन को रुकवाने या उसे गिराने की धमकी देकर परेशान करता है या फिर पैसों की डिमांड करता है तो उसकी खबर फौरन दिल्ली पुलिस के विजिलेंस सेल नम्बर 1064 पर दें साथ ही पैसों की डिमांड करने वाले पुलिस वाले की ऑडियो/ वीडियो रिकॉर्डिंग करने के बाद उसे मोबाइल नंबर 9910641064 पर वट्सऐप या एमएमएस के जरिए भेज दे। इस प्रकार दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध कानून के तहत कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post कश्मीर की एक-एक इंच जमीन वापस लाएंगे: बिलावल भुट्टो
Next post बिल गेट्स ने जम्‍मू-कश्‍मीर में बाढ़ पीडि़तों की मदद के लिये 7 लाख डॉलर की राशि प्रदान करने का किया एलान