December 2, 2022

भारत के उत्तरी भागों में 9 से 12 जुलाई, 2020 के दौरान भारी बारिश होने की संभावना

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केन्द्र/ क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केन्द्र, नई दिल्ली के अनुसार : मानसून का पश्चिमी विक्षोभ अपनी सामान्य स्थिति के दक्षिण में बना हुआ है और उसका पूर्वी विक्षोभ अपनी सामान्य स्थिति के नजदीक है। इसके 9 जुलाई से हिमालय की तलहटी की ओर उत्तर को रुख करने की काफी संभावना है।
इसके अलावा आज यानी 8 जुलाई से बंगाल की खाड़ी के निचले क्षोभ मंडल स्तरों से नम दक्षिण पश्चिमी/दक्षिणी हवाओं के पूर्वोत्तर और पूर्वी भारत के तटीय इलाकों की ओर रुख कर सकती हैं। इसके अलावा अरब सागर से दक्षिण पश्चमी/ दक्षिणी हवाओं के 9 जुलाई, 2020 से उत्तर-पश्चिमी भारत की ओर रुख करने की संभावना है।
उक्त सामान्य स्थितियों के प्रभाव के चलते 9 से 12 जुलाई, 2020 के दौरान पश्चिमी हिमालय क्षेत्र, पंजाब और हरियाणा के उत्तरी हिस्सों, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश, बिहार, उप हिमालयी पश्चिम बंगाल एवं सिक्किम और पूर्वोत्तर राज्यों में बड़े पैमाने पर भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।
11 और 12 जुलाई को उत्तराखंड में; 10 से 12 जुलाई को पूर्वी उत्तर प्रदेश में; 10 और 11 जुलाई को बिहार में; पश्चिम बंगाल, सिक्किम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश के उप हिमालयी क्षेत्र में 9 से 11 जुलाई, 2020 तक अलग-अलग स्थानों पर बेहद भारी बारिश (≥ 20 सेमी) होने की संभावनाएं हैं।
अगले 5 दिनों के लिए विस्तृत अनुमान और चेतावनी

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post दिल्ली सरकार की समिति ने कोविड-19 से आर्थिक सुधार में तेजी लाने के लिए जीवित, पुनर्जीवित व सफल दृष्टिकोण अपनाने पर सहमति जताई
Next post भारतीय नौसेना ने पूरा किया “ऑपरेशन समुद्र सेतु”