November 26, 2022

रेप, हत्या के मामले में नाबालिगों को भी होगी सख्त सजा!

केंद्र सरकार ने जुवेनाइल जस्टिस एक्ट में संशोधन करने की तैयारी कर ली है| अब संगीन अपराध करने पर 16 साल की उम्र वाले भी बालिग की श्रेणी में आएंगे| शुक्रवार को कानून मंत्रालय ने जुवेलाइन जस्टिस एक्ट संशोधन ड्राफ्ट को मंजूरी दे दी| कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कैबिनेट की स्वीकृति के लिए सभी मंत्रालयों में ड्राफ्ट को भेज दिया है| सूत्रों के मुताबिक, महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने मंगलवार को संशोधन के साथ जुवेनाइल जस्टिस एक्ट ड्राफ्ट को कानून मंत्री के पास भेजा था|

सूत्रों की मानें तो, कानून मंत्रालय ने ड्राफ्ट में किसी तरह का कोई बदलाव नहीं किया है| मेनका गांधी ने जुलाई में भी इस एक्ट में बदलाव पर बल दिया था| गांधी ने सुझाव दिया था कि, संगीन अपराध करने वाले नाबालिगों के साथ बालिगों की तरह पेश आना चाहिए| उन्होंने कहा था कि, पुलिस के मुताबिक, 50 फीसदी यौन शोषण के अपराध करने वाले 16 साल की उम्र के होते हैं, वे जुवेनाइल एक्ट के बारे में जानते हैं इसलिए वे ऐसा करते हैं| मेनका ने कहा था कि, वे कानून में बदलाव करने के लिए प्रस्ताव पेश करेंगी और प्रक्रिया को व्यक्तिगत रूप से उनके द्वारा मॉनिटर किया जाएगा|

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post करगिल विजय दिवस पर शहीदों को श्रद्धांजलि
Next post कांठ मामले पर गरमाई सियासत, मुरादाबाद में धारा 144