December 4, 2022

रोहिणी मध्यस्थता केन्द्र ने किया 3 नए मामलों का निपटारा

दिल्ली विवाद समाधान समिति ने अपने रोहिणी मध्यस्थता केन्द्र पर 3 नए मामलों का समाधान किया। क्लब में सदस्यता से सम्बन्धित मामले में दोनों पक्षों के बीच परस्पर सहमति पर शिकायताकर्ता को अन्य पक्ष की ओर से 1 लाख 10 हजार रुपए का मुआवजा दिया। एक अन्य वैवाहिक मामला जोकि दोनों पक्षों की आपसी सहमति से निपटाया गया, शिकायतकर्ता को 65 हजार का मुआवजा दूसरे पक्ष की ओर से दिया गया। कार पार्किंग से सम्बन्धित मामला जोकि स्थानीय पुलिस स्टेशन के माध्यम से रोहिणी मध्यस्थता केन्द्र को प्राप्त हुआ था, में शिकायतकर्ता को पूरा पार्किंग शुल्क दिलवाया गया।

इन मध्यस्थता केन्दों से जहां विवाद निपटारा, न्याय की बढती लागत, अदालत से छुटकारा मिलता है वहीं विवादों का समाधान भी एक से दो महीनों में कर दिया जाता है। इन केंद्रों में उपभोक्ता अदालतों व अधिकरण (ट्राइब्यूनल) में लम्बित मामलों का भी निपटारा किया जा रहा है। उपभोक्ता खुद भी मामलों के समाधान के लिए मध्यस्थता केन्द्रों से संपर्क कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post वाराणसी से मोदी के निर्वाचन को चुनौती, नोटिस जारी
Next post भारत ने अपनी पहली पारी में 295 रन बनाये