December 9, 2022

लोक निर्माण विभाग ने किया आश्रम चाॅक पर फ्लाईओवर के विस्तार जोड़ो के बदलने का कार्य

लोक निर्माण विभाग आश्रम चाॅक फ्लाईओवर के दोनों तरफ के रास्तो(02 कैरिजवे) के 10 विस्तार जोड़ो के बदलने का कार्य का तेजी से पूरा कर रही है। इसकी सूचना लोक निर्माण विभाग के सचिव अरूण बरोका ने आज दी। उन्होंने आगे बताया कि फ्लाईओवर के विस्तार जोड़ों के बनाने की तकनीक स्लैब सील का प्रचलन अब धीरे-धीरे कम होने लगा है। क्योंकि इससे विस्तार जोड़ों के बीच दूरी आने लगती है और साथ ही साथ आजकल ठेकेदार इस तकनीक के बजाय माॅड्यूलर स्लैब सील का इस्तेमाल करते हैं। इस तकनीक के जरिए मजबूती के साथ-साथ कार्य कम समय में पूरा कर लिया जाता है।

बरोका ने आगे बताया कि इस कार्य की प्रथम चरण में शुरुआत पिछले महीने 22 तारीख को हुई थी। शुरुआत में इस कार्य की समय सीमा 04 महीने (दो-दो महीने फ्लाईओवर के प्रत्येक मार्ग के लिए) रखी गई थी। साथ ही इस बात का ध्यान रखा गया था कि इस पुल पर यातायात बाधित न हो इसके लिए फ्लाईओवर के एक तरफ मरम्मत का कार्य चलता रहे और दूसरी तरफ ट्रैफिक की आवाजाही बनी रहे। इस पुल को मरम्मत करने की पुरानी स्लैब सील तकनीक के बजाए माॅड्यूलर तकनीक का इस्तेमाल किया गया। जिसके जरिए अतिरिक्त मशीनरी और 24 घंटे काम की अवधि बढ़ाने से पहला आधे मार्ग(डीएनडी बाध्य लेन) पर विस्तार जोड़ों का बनाने का कार्य 16 दिन के भीतर पूरा कर लिया गया। अगला कैरेजवे पर विस्तार जोड़ों के बनाने का कार्य इस महीने के अंत तक पूरा हो जाएगा।

बरोका ने आगे बताया कि रैपिड हार्डनिंग कंक्रीट की नई तकनीक के इस्तेमाल के जरिए विस्तार जोड़ों का बनाने का कार्य बहुत तेजी के साथ पूरा होता साथ पुल पर कम समय के लिए ट्रैफिक बंद करना पड़ता। पहले की तकनीक के जरिए 30 एमपीए की ताकत की विस्तार जोड़ो को बनने में 07 दिन में पूरा होता था और अब नई तकनीक के जरिए ये कार्य 3 से 4 दिन में पूरा हो जाता है। इस प्रकार यह कार्य निर्धारित कार्य समय 4 महीने के बजाए 2 महीने में पूरा हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post तेजाब का स्टाॅक रखने वाले 97 गोदामों पर छापे, 10 पर लगा जुर्माना
Next post ‘बावा’( बी.एस.एफ. वाइव्स वेलफेयर एसोसियेशन)मनाएगा‘बावा दिवस’