December 2, 2022

सजने लगे मातारानी के दरबार

उमरिया – आगामी 25 सितंबर से प्रारंभ होने वाले शारदीय नवरात्र की तैयारियां जोरो शोरों से नगर सहित पाली , नौरोजाबाद, मानपुर में की जा रही है। शारदीय नवरातत्र को दृष्टिगत रखते हुए नगर में माता रानी के आकर्षक दरबार बनवाये जा रहे है। नगर के जय स्तंभ चौक, कैंप, झिरिया मोहल्ला, गांधी चौकी, पुराना पड़ाव, विनोद वीडियों में मातारानी के आगमन की तैयारियां प्रारंभ कर दी गई है। वहीं स्थानीय एवं बाहर से आये मूर्तिकारों द्वारा भी मातारानी की आकर्षक मूर्तियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। दुर्गा समितियों द्वारा भी मूर्तियों की बुकिंग प्रारंभ कर दी गई है। बाहर से आये मूर्तिकारों को पर्यावरण को दृष्टि गत रखते हुए प्लास्टर आफ पेरिस की मूर्तियां बनाई जा रही है। बताया जाता है कि पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष मूर्तियों के दाम मे बढ़ोत्तरी हुई है। परंतु मां की भक्ति के आगे मंहगाई मात खा रही है।
बढ़ी चहल पहल- नवरात्र को दृष्टिगत रखते हुए बाजारों में इन दिनो काफी चहल पहल दिखाई दे रही है। लोगों द्वारा पंडाल को सजानें के लिए जमकर खरीददारी की जा रही है। वही स्थानीय शारदा मंदिर, बहरा मंदिर, ज्वालामुखी मंदिरों की साफ सफाई, रंगाई पुताई का कार्य भी तेजी से प्रारंभ हो गया है। वही मंदिरों में बैरीकेटिंग भी बनाई जा रही है ताकि आने वाले भक्तों को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करने पड़े।

बिरासिनी मे बोये जायेगे 10 हजार जवारे- बिरसिंहपुर पाली मे स्थित विरासिनी समिति की बैठक में बताया गया कि इस वर्ष 10 हजार जवारा कलशों की स्थापना की जाएगी। इसके अलावा मंदिर प्रांगण में स्थापित होने वाले विभन्न कलशों की दरे भी शामिल की गई है। बैठक में प्रबंधन समिति व गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। बैठक में जवारा कलश स्थापना, तेल घी, मुंडन कर्म व सुरक्षा को लेकर विस्तार से चर्चा की गई। नवरात्र में सप्तमी , एवं अष्टमी तथा नवमी को
बिरासिनी मे बोये जायेगे 10 हजार जवारे- बिरसिंहपुर पाली मे स्थित विरासिनी समिति की बैठक में बताया गया कि इस वर्ष 10 हजार जवारा कलशों की स्थापना की जाएगी। इसके अलावा मंदिर प्रांगण में स्थापित होने वाले विभन्न कलशों की दरे भी शामिल की गई है। बैठक में प्रबंधन समिति व गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। बैठक में जवारा कलश स्थापना, तेल घी, मुंडन कर्म व सुरक्षा को लेकर विस्तार से चर्चा की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post काली पट्टी लगाकर कर रहे काम
Next post पाईप मामले पर पांच पर केस दर्ज