December 9, 2022

6 दिसंबर बाबा साहेब डॉ भीमराव अम्बेडकर की 58 वीं पुण्यतिथि की पूर्व संध्या पर आयोजित वार्षिक कार्यक्रम

6 दिसंबर बाबा साहेब डॉ भीमराव अम्बेडकर की 58 वीं पुण्यतिथि की पूर्व संध्या पर हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी नेशनल कोंफेडेरेशन आॅफ दलित ओर्गनाइजेशन्स (नैक्डोर) और इसके साथी संगठनों राष्ट्रीय दलित महासभा, राष्ट्रीय दलित महिला आन्दोलन और आदिवासी अधिकार आन्दोलन, द्वारा आयोजित वार्षिक कार्यक्रम चार दिसम्बर 2014 को राष्ट्रीय दलित आदिवासी अधिकार सम्मलेन और पांच दिसम्बर 2014 को दलित सम्मान मार्च और राष्ट्रीय दलित महासभा में हम आप को सादर आमंत्रित करते हैं। नैक्डोर देश के 2100 से अधिक दलित आदिवासी संगठनों का साझा मंच है, जो देश के 23 राज्यों में फैले हुए हैं। पिछले चैदह वर्षों से नैक्डोर दलित आदिवासी अधिकारों के लिए आवाज बुलंद करता रहा है। यह किसी राजनैतिक दल से नहीं जुडा है पर सारे राजनैतिक दलों और उनके नेतृत्व में चलने वाली सरकारों को दलितों आदिवासियों के विकास के लिए और अधिक सक्रिय होने का आह्वान करता है। पांच दिसंबर विश्व में रंगभेद के विरुद्ध आन्दोलन के प्रसिद्ध नेता दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति श्री नेल्सन मंडेला की भी पुण्य तिथि है। इस महासभा के माध्यम से दलित आदिवासियों के कुछ मुख्य अधिकारों की मांग की जाएगी।

इस दौरान मंच से कुछ मुख्य विषयों पर चर्चा होगी, जिसमें पहला जमींन और जंगल पर अधिकार दूसरा निजी क्षेत्र, सरकारी क्षेत्र और सरकारी बजटों में न्यायपूर्ण हिस्सा, तीसरा जरुरी सेवाएँ – पोषण और खाद्य सुरक्षा, जल और स्वच्छता का अधिकार, चैथा दलित आदिवासी युवाओं की चिंताएं-शिक्षा, रोजगार, उद्यमशीलता, पांचवां मनरेगा और मजदूर और दलित आदिवासी महिलाएं – अत्याचारों के प्रतिरोध से विकास के लिए सशक्तीकरण की ओर इस सभी पर मुख्यता से प्रकाश डाला जाएगा। साथ ही 4 दिसम्बर 2014 को राष्ट्रीय दलित महासभा की ओर से दलित आदिवासी घोषण पत्र भी जारी किया जाएगा।

आशा है कि आप देश के दलित आदिवासी समाज के इस संघर्ष में आप भागीदार होंगे।

कार्यक्रम का विवरण इस प्रकार हैः-

o राष्ट्रीय दलित आदिवासी अधिकार सम्मेलन- चार दिसम्बर सुबह नौ बजे से शाम छः बजे तक, स्थान-रामलीला मैदान, नई दिल्ली

o सम्मान की हजार रौशनियां – चार दिसम्बर, शाम छः बजे से सात बजे तक

स्थान- रामलीला मैदान, नई दिल्ली

o सांस्कृतिक कार्यक्रम- चार दिसम्बर शाम आठ बजे से रात ग्यारह बजे तक

स्थान-रामलीला मैदान, नई दिल्ली

o दलित सम्मान मार्च – पांच दिसंबर सुबह साढे नौ बजे रामलीला मैदान से संसद के लिए प्रस्थान

o राष्ट्रीय दलित महासभा- पांच दिसंबर ग्यारह बजे से सुबह से तीन बजे अपराह्न तक,

o स्थान-संसद मार्ग, नई दिल्ली

शुभकामनाओं सहित

अशोक भारत

राष्ट्रीय अध्यक्ष, नैक्डोर

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post ऐंटि टबेको डे, रेलवे पर लगा 14000/- रुपए का जुर्माना
Next post ‘Swachchh Bharat Abhiyan’