December 4, 2022

63वीं नैशनल शूटिंग चैंपियनशिप में फरीद अली ने 25 मीटर पिस्टल की तीन इवेंट में एक गोल्ड और कांस्य पदक जीते

फरीद अली s/o हाजी नईमुद्दीन, Shooter, ISSF Certified Shooting Coach and Joint Secretary, Delhi State Rifle Association..
Farid’s Shooting Coach- Nawabuddin दादा (पिताजी के चाचा)
पत्रकारिता जैसे व्यस्त प्रोफेशन में होने की वजह से प्रैक्टिस के लिए टाइम नहीं मिल पाता है, बिना प्रैक्टिस के ही प्रतियोगिता में भाग लेकर अच्छा प्रदर्शन रहा है अभी तक, इस साल जनवरी में मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में सम्पन्न हुई 63वीं नैशनल शूटिंग चैंपियनशिप में फरीद ने 25 मीटर पिस्टल की तीन इवेंट में एक गोल्ड और कांस्य पदक जीते। पिछले साल केरल में हुई 62वीं राष्ट्रीय निशानेबाज़ी प्रतियोगिता में 25 और 50 मीटर पिस्टल इवेंट्स में 2 सिल्वर मेडल जीते थे। दिसंबर में केरल की राजधानी त्रिवेंद्रम में हुई राष्ट्रिय निशानेबाज़ी प्रतियोगिता में फरीद ने 25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल इवेंट में कांस्य पदक जीता, प्रतियोगिता के दौरान फरीद को दिल्ली की टीम का मैनेजर नियुक्त किया गया था, टीम मैनेजर की ज़िम्मेदारी को बखूबी निभाते हुए, फरीद ने पिस्टल शूटिंग की सभी पांच स्पर्धाओं में अच्छा प्रदर्शन किया..
प्रैक्टिस के बगैर भी पिस्टल शूटिंग की सभी पांच स्पर्धाओं पर अच्छी पकड़, देश अच्छे सिविलियन निशानेबाजों में शुमार l लेकिन अब प्रैक्टिस करनी है, इसी मकसद से फरीद ने ग़ाज़ियाबाद के वसुंधरा सेक्टर-5 में ”बडिंग शूटर्स अकैडमी” शुरू की है, जिसमे वो खुद अपने अभ्यास के साथ-साथ नए निशानेबाज़ों को भी ट्रेनिंग दे रहे हैं, ताकि निशानेबाज़ी के खेल को बढ़ावा मिले और इस खेल में एक नई नस्ल तैयार हो सके, इस साल फरीद अली ‘इंटरनैशनल शूटिंग स्पोर्ट्स फेडरेशन’ द्वारा आयोजित कोर्स करके ‘आइ.एस.एस.एफ. सर्टिफाइड शूटिंग स्पोर्ट्स कोच’ भी बन गए हैं.

साल भर पहले फरीद ने अपने घर पे ही कुछ बच्चों को निशानेबाज़ी की परसनल ट्रेनिंग देनी शुरू की थी, शूटिंग अकैडमी खोलने की प्रेरणा फरीद को उनकी स्टूडेंट अनुष्का त्यागी के पिता अजय त्यागी और राष्ट्रिय स्तर की निशानेबाज़ बन चुकी दो बहनों नाज़ और आरज़ू सैफी के पिता जमील खान ने दी. सिर्फ पांच महीने पहले शुरू हुई ‘बडिंग शूटर्स अकैडमी’ के दर्जन भर निशानेबाज़ राज्य स्तर की प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं. इस अकैडमी में भारतीय पिस्टल शूटिंग टीम के कोच रहे स्वर्गीय वाजिद अली की बेटी समीना सैयद भी बतौर कोच निशानेबाज़ी की ट्रेनिंग देती हैं. अब तक अनुष्का त्यागी, वललरी सौरभ, कैलाश त्यागी, जमील खान, और महज़ आठ साल की उम्र में ‘पुलसत्य सारस्वत और शुभ शाही’ राज्य स्तर की निशानेबाज़ी के लिए क़्वालिफ़ाइ कर चुके हैं.

इन सब उपलब्धियों के साथ-साथ ख़ास बात ये कि फरीद अली दिल्ली स्टेट राइफल एसोसिएशन के जॉइंट-सेक्रेटरी भी हैं, फरवरी-2018 में हुए चुनाव में फरीद ने अजित सिंह रनहोत्रा को दस वोट से हराया और संयुक्त-सचिव बने, जाने-माने निशानेबाज़ पद्मश्री जसपाल राणा इस चुनाव में निर्विरोध चेयरमैन और भारतीय पिस्टल टीम के कोच राजीव शर्मा सचिव चुने गए थे.

फरीद अली के पिता हाजी नईमुद्दीन की मोटर वर्कशॉप है दिल्ली के झंडेवालान में। शमशुद्दीन गन हाउस इनका खानदानी काम है, पिताजी के चाचा यानि फरीद के दादा नवाबुद्दीन फरीद के कोच हैं, उन्होंने ही शूटिंग का शौक लगाया और सिखाया। फरीद की पत्नी शीबा दिल्ली नगर निगम में अध्यापक हैं, ये अपने दोनों बेटों अरहान अली (7 साल) और अरहम अब्दुल्लाह (6 माह) को भी अच्छे निशानेबाज़ बनाना चाहते हैं, फरीद 4 बहनें (फरीदा, फैमिदा, फरहा और फरहीन) और एक भाई फहीम सैफ मशहूर स्पीच थेरेपिस्ट हैं, ऑटिस्टिक बच्चों को कई तरह की थेरेपी देते हैं, ये सभी इंदिरापुरम स्थित ”द विंग्स लर्निंग सेंटर’ में एक साथ काम करते हैं,

पहली बार 1997 में पंजाब के फिल्लौर में हुई आल इंडिया जीवी मावलंकर शूटिंग चैम्पियनशिप में भाग लिया, अच्छा स्कोर किया, 1998 में पश्चिम बंगाल के आसनसोल में आल इंडिया जीवी मावलंकर शूटिंग चैम्पियनशिप में भाग लिया और नैशनल शूटिंग चैम्पियनशिप के लिए कवालीफाई किया, फिर बैंगलोर में राष्ट्रिय निशानेबाज़ी प्रतियोगिता में भाग लिया और बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए जूनियर में चौथे स्थान पर रहे। उसके बाद 2005 तक छः राष्ट्रिय प्रतियोगिताओं में भाग लिया, दिल्ली की टीम से। 2005 में जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी का प्रतिनिधित्व करते हुए पुणे में हुई आल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी शूटिंग चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतकर जामिया मिल्लिया को शूटिंग में पहला पदक दिलाया। 2005 के बाद पढाई और फिर जॉब की वजह सर शूटिंग नहीं कर पाए। जामिया मिल्लिया से समाजशात्र में एम.ए. और पत्रकारिता का कोर्स करके पत्रकारिता शुरू की। फिर 2016 में एमबीए की डिग्री भी हासिल की. 2011 में फिर नैशनल शूटिंग में एंट्री की और दिल्ली की टीम से खेलते हुए कांस्य पदक जीता। फिर राष्ट्रिय खेलों के लिए चयन हुआ और रांची में हुए राष्ट्रिय खेलों में दिल्ली का प्रतिनिधित्व किया। उसके बाद से लगातार कई प्रतोयोगिताओं में पदक जीते, और अभी भी सफर जारी है।

Won 1 Gold and 2 Bronze Medals in 63rd National Shooting championship, Bhopal-2019..
Won 2 Silver medals in 62nd National Shooting championship, Kerala-2018

Participated in 12 National Shooting Championships.
2 National Games
4 All India GV Mavlankar Shooting Championships
3 All India Inter University Shooting Championships (represented Jamia Millia Islamia University)
First competition- 1997, All India GV Mavlankar shooting championship at Phillaur, Punjab.

Best Performances in Shooting Competitions
Bronze medal in 25 meter .22 standard pistol event, 61st National Shooting championship, Kerala-2017
Gold Medal in 25 mtr .22 Standard pistol event, 31st North Zone shooting championship- Nov.-2011, in Delhi.
Gold Medal in 50 mtr .22 Free pistol event, 31st North Zone shooting championship- Nov.-2011, in Delhi.
Bronze Medal in 50 mtr .22 Free Pistol event, 32nd North Zone Shooting Championship-2012, Delhi.
Bronze Medal in 10 mtr Air Pistol event, 1st Suncity Shooting championship, June-2012, Jodhpur.
Bronze Medal in 25 mtr .32 Centre Fire pistol event, 21st All India GV Mavlankar shooting championship- Oct.-2011, in Ahmedabad.
Bronze Medal in 25 mtr .22 Standard pistol event, 21st All India GV Mavlankar shooting championship- Oct.-2011, in Ahmedabad.
Participated in 35th National Games Kerala-2015 and secured good ranking in Air Pistol team event.
Participated in 34th National Games Jharkhand-2011, secured good rankings in 50m Free Pistol, 25m Rapid Fire Pistol and 10mtr Air Pistol events.
Gold Medal in 25 mtr .22 Rapid Fire Pistol event, 31st Delhi State Shooting Championship-2015
Silver Medal in 50 mtr .22 Free Pistol event, 31st Delhi State Shooting Championship-2015
Bronze Medal in 25 mtr .22 Standard Pistol event, 31st Delhi State Shooting Championship-2015
Gold Medal in 25 mtr .22 Standard Pistol event, 30th Delhi State Shooting Championship-2014
Silver Medal in 50 mtr .22 Free Pistol event, 30th Delhi State Shooting Championship-2014
Bronze Medal in 10 mtr Air Pistol, Col. Jaswant Singh Memorial Shooting Competition-2014, New Delhi.
Bronze Medal in 25 mtr .32 Center Fire Pistol event, 29th Delhi State Shooting Championship-2013
Bronze Medal in 25 mtr .22 Standard Pistol event, 29th Delhi State Shooting Championship-2013
Gold Medal in 25 mtr .22 Standard Pistol event, 28th Delhi State Shooting Championship-2012
Silver Medal in 25 mtr .22 Rapid Fire Pistol event, 28th Delhi State Shooting Championship-2012
Bronze Medal in 25 mtr .32 Center Fire Pistol event, 28th Delhi State Shooting Championship-2012
Participated in 1st and 2nd National selection Trials (for international competitions) March 2011, in Delhi, in Air Pistol Event and score 559/600 and 564/600 respectively.
Bronze Medal in Air Pistol team event (score 562/600) 54th National Shooting Championship Competition- January-2011, Delhi.
Gold Medal in Air pistol event, 18th Delhi State Shooting Championship-2000.
Gold Medal in Air pistol event, 16th Delhi State Shooting Championship-1999.
Bronze Medal in Air pistol event, All India Inter-University Shooting Championship- 2004, Pune.
Bronze Medal in 50 meters .22 Free Pistol event, 27th Delhi State Shooting Championship-2011
Bronze Medal in 25 mtrs .32 Center Fire Pistol event, 27th Delhi State Shooting Championship-2011
4th position in .22 Sports pistol event, 42nd National Shooting Championship Competition – 1999, Bangalore.
4th position in Air pistol event, score 374/400, All India G V Mavlankar Shooting Championship- November-2010, Guwahati.

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Previous post दिल्ली पुलिस नारकोटिक्स ब्रांच ने शार्प शूटर हरेंदर को एक पिस्टल के साथ धर दबोचा
Next post दिल्ली की बैंक्वेट हॉल्स एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मिलकर दिल्ली में बैंक्वेट हॉल्स खोलने के लिए दिल्ली सरकार को धन्यवाद दिया