PHONE : +91-011-23626019
(M) 09811186005
Email : crimehilore@gmail.com ,
editor.crimehilore@gmail.com


Breaking News

Category Archives: अध्यात्म

झंडेवाला देवी मंदिर:आठवें स्वरूप माँ महागौरी जी का श्रृंगार व पूजा अर्चना

IMG-20200401-WA0029

आज वासंतिक नवरात्रि के आठवें दिन मंदिर में मां के आठवें स्वरूप माँ महागौरी जी का श्रृंगार व पूजा अर्चना पूर्ण विधि विधान के साथ की गई। इन का गोर वर्ण है। इन के सारे वस्त्र सफेद हैं । इन की आयु आठ वर्ष की मानी जाती है । साधकों व भक्तों के लिये माँ का यह स्वरूप अति शुभ ... Read More »

विध्नहर्ता गजानन करेंगे कल्याण:प्रो. सरोज व्यास

saroj vyas

किसी भी कार्य को आरम्भ करने से पूर्व उसके निर्विघ्न संपन्न होने की कामना के लिए गणेश जी को सबसे पहले मनाया जाता है । बचपन में जब मां किसी भी पर्व, उत्सव, तीज-त्यौहार पर अवसरानुकूल व्रत-उपवास से जुड़ी कथा सुनाती थी, तब विनायक जी की स्तुति अथवा कथा अनिवार्य रूप से कहती थी । आज भी हिन्दू धर्म में ... Read More »

मन की बात – कोरोना का विनाश

Dr-Saroj-Vyas-223x300

रविवार (29.03.2020) की सुबह भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की मन की बात सुनी, उनके मन की बात सुनकर मेरे मन में भी आशा की एक किरण फूटी | कोरोना वाइरस से विश्व के मानचित्र पर घटित हो रही विनाशलीला, मानवता पर उसका प्रभाव, योजनाओं के साथ सरकारी तैयारियां और धरातलीय हकीकत सभी कुछ मेरे मानस पटल पर धीरे-धीरे ... Read More »

क्या हमे चालीसा पढते समय पता भी होता है कि हम हनुमानजी से क्या कह रहे हैं या क्या मांग रहे हैं?

JAI BAJRANG BALI

हम सब हनुमान चालीसा पढते हैं, सब रटा रटाया। क्या हमे चालीसा पढते समय पता भी होता है कि हम हनुमानजी से क्या कह रहे हैं या क्या मांग रहे हैं? बस रटा रटाया बोलते जाते हैं। आनंद और फल शायद तभी मिलेगा जब हमें इसका मतलब भी पता हो। तो लीजिए पेश है श्री हनुमान चालीसा अर्थ सहित!! ॐॐॐॐॐॐॐॐॐॐॐॐॐॐॐॐ ... Read More »

हनुमानजी के 10 रहस्य ……

hanumanji

हिन्दुओं के प्रमुख देवता हनुमानजी के बारे में कई रहस्य जो अभी तक छिपे हुए हैं। शास्त्रों अनुसार हनुमानजी इस धरती पर एक कल्प तक सशरीर रहेंगे। 1. हनुमानजी का जन्म स्थान : कर्नाटक के कोपल जिले में स्थित हम्पी के निकट बसे हुए ग्राम अनेगुंदी को रामायणकालीन किष्किंधा मानते हैं। तुंगभद्रा नदी को पार करने पर अनेगुंदी जाते समय ... Read More »

नवरात्र क्या है और क्या है नवरात्र का वैज्ञानिक और आध्यात्मिक रहस्य ?

jai mata di

आईए जानते है । नवरात्र शब्द से नव अहोरात्रों (विशेष रात्रियां) का बोध होता है। इस समय शक्ति के नव रूपों की उपासना की जाती है। ‘रात्रि’ शब्द सिद्धि का प्रतीक है। भारत के प्राचीन ऋषियों-मुनियों ने रात्रि को दिन की अपेक्षा अधिक महत्व दिया है, इसलिए दीपावली, होलिका, शिवरात्रि और नवरात्र आदि उत्सवों को रात में ही मनाने की ... Read More »

एक थाना ऐसा भी

IMG-20190801-WA0010

काशी में एक ऐसा भी थाना है जहां आज भी इस थाने का प्रभारी थाने की मुख्य कुर्सी पर बैठने की हिम्मत नहीं जुटा पता वो बैठा भी होता है तो अपने ऑफिस में कुर्सी के बगल में एक दूसरी कुर्सी लगाकर। दरअसल ये थाना है वाराणसी कोतवाली का जहां के इंचार्ज बाबा कालभैरव को कहा जाता हैं। यही नहीं ... Read More »

*जानने योग्य जानकारी*

om

शास्त्रो में बांस की लकड़ी जलाना मना है फिर भी लोग अगरबत्ती जलाते है। जो की बांस की बनी होती है। अगरबत्ती जलाने से पितृदोष लगता है।शास्त्रो में पूजन विधान में कही भी अगरबत्ती का उल्लेख नहीं मिलता सब जगह धुप ही लिखा हुआ मिलता है। अगरबत्ती तो केमिकल से बनाई जाती है आजकल लोगो को पितृ दोष बहुत होते ... Read More »

कैसे करें ध्यान साधना

om

ध्यान का सीधा-सीधा संबंध मन से है। मनुष्य के अन्दर दो प्रकार का मन होता है एक बाह्यमन तथा दुसरा अंर्तमन। अंर्तमन की अपेक्षा बाह्यमन का स्वभाव अत्यंत चंचल तथा कुटिल है जीसमे काम क्रोध, लोभ, अहंकार, इष्र्या, राग, द्वेष, छल, कपट इत्यादि विकार उत्पन्न होते रहते हैं जो मुख्य रूप से मनुष्य के पतन का कारण है। बाह्यमन हमेशा ... Read More »

श्री गणेश उत्सव

ganesh-05

गणेश चतुर्थी एक हिन्दू पर्व है जो उनके जन्मदिन के अवसर पर उनका स्वागत करने के लिये हर वर्ष मनाया जाता है। वो माता पार्वती और भगवान शिव के प्यारे बेटे है। पूरे भारत में हिन्दू धर्म के लोग ये मानते है कि हर वर्ष गणेश जी धरती पर पधारते है और लोगों को उनका मनचाहा आशीर्वाद प्रदान करते है। ... Read More »